40 के बाद कैसे रखें अच्छे से फिटनेस का ध्यान
मां का स्वास्थ्य और देखभाल (Mother Care)

40 के बाद कैसे रखें अच्छे से फिटनेस का ध्यान

40 ke baad kaise rakhe achhe se fitness ka dhyan

Women Raftaar

आपकी उम्र 40 वे पड़ाव पर पहुंच चुकी है और 40 की उम्र पर पहुंचने का मतलब है अपनी सेहत का पहले से अधिक ध्यान रखना। जैसे-जैसे उम्र बढ़ती रहती है वैसे-वैसे सेहत में भी बदलाव आते रहते हैं। इस लेख में हम आपको 40 की उम्र में आने के बाद स्वास्थ्य का ध्यान (Fitness tips after 40) किस तरीके से रखना जैसी जरूरत बाते बता रहे हैं। तो चलिए आपको बताते हैं 40 की उम्र में आने के बाद कैसे रखें अच्छे से स्वास्थ्य का ध्यान।

40 के बाद महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए नाश्ता जरूर करें - 40 ke baad mahilao ke swasthy ke liye nashta jaroor kare

स्वास्थ्य विषेशज्ञों का कहना है कि रात के खाने और नाश्ते के खाने के बीच 8 से 9 घंटे का गैप होता है और ऐसे में सुबह उठने के बाद बॉडी को जरूर कुछ न कुछ चाहिए होता है। इसलिए आपको अब से सुबह उठकर भरपेट नाश्ता करना है, इससे आपका मेटाबॉलिज़्म रेट बढ़ेगा। साथ ही दिनभर एक्टीविटीयों को पूरा करने में मदद मिलेगी।

40 की उम्र के बाद क्या खाएं - 40 ki umar ke baad kya khaye

40 के बाद महिलाओं को रोज कम से कम 1 ग्राम कैल्शियम और 400 से 800 आईयू विटामिन डी की जरूरत होती है और उनकी ये कमी आहारों से पूरी हो सकती है। 40 के बाद महिलाओं को फ्लैक्स सीड्स, रागी, छोले, अंडे, दूध, दही, पनीर, आंवला, टूना, मीट, डेयरी प्रोडक्ट्स, चुकंदर, गाजर, अनार, अंजीर आदि को अपने आहार में शामिल करें।

40 की उम्र के बाद महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए व्यायाम - 40 ke baad mahilaon ke swasthya ke liye vyayam

व्यायाम न सिर्फ वयस्कों और बच्चों के लिए अच्छा होता है बल्कि इसकी जरूरत आपको और आपकी उम्र वाली महिलाओं  को सबसे ज्यादा होती है। व्यायाम करने से न सिर्फ आप बीमारियों से दूर रहेंगी बल्कि आपका वजन नियंत्रित रहेगा और मांसपेशियां भी टोंड रहेंगी। व्यायाम करने से आप इस उम्र में भी बेहद खूबसूरत लगेंगी।

40 साल के बाद महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए तनाव दूर करें - 40 saal ke baad mahilaon ke swasthya ke liye tanav door kare

तनाव के कारण ब्लड प्रेशर बढ़ता है, साथ ही आपके दिमाग पर भी दबाव पड़ता है। स्ट्रेस के कारण लिबिडो कम होता है और आपकी उम्र अधिक बढ़ी हुई लगती है। अगर आपको स्ट्रेस की समस्या है तो दिन में दो बार 4 की गिनती तक सांस अंदर  लें और 8 की गिनती तक सांस छोड़े रखें। यह प्रक्रिया दिल, मसल्स, एयरवे, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट और ब्लड वेसल्स को आराम देती है। 

40 वर्ष बाद महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए मेडिकल चेकअप करवाते रहें - 40 varsh baad mahilao ke swasthya ke liye medical checkup karwate rahe 

महिला की जब उम्र 40 की हो जाती है तो उसके बाद हर 2-4 सालों में आंखों का टेस्ट, ब्लड प्रेशर तो नियमित रूप से, 3-5 वर्ष बाद थायराइड, दांतों की जांच और हर 1 से 3 वर्ष में शुगर की जाँच करवाते रहनी चाहिए।