आलोचनाओं से जल्दी से ऐसे बचना सीखें
पर्सनालिटी (PERSONALITY)

आलोचनाओं से जल्दी से ऐसे बचना सीखें

Aalochnao se jaldi se aise bachna sikhe

Women Raftaar

स्कूल, कॉलेज से लेकर ऑफिस लाइफ तक हमारे कई दोस्त और कलीग्स बनते हैं, तो जिंदगी में कुछ ऐसे लोगों की एंट्री भी होती जिनकी आलोचनाएं कई बार आपको काफी नेगेटिव कर देती हैं। इस नकारत्मकता से परेशान होकर आप कई बार ऐसे गलत फैसले भी ले लेते हैं, जिनका एहसास आपको भविष्य में भी कचोटता रहता है।

तो आइए जानते हैं कि जल्दी से स्कूल-कॉलेज और ऑफिस में अपने आलोचकों से निपटने के बेस्ट तरीके।

1. आलोचनाओं का स्वागत करें -

क्या आप जानते हैं जीवन में आपको कामयाबी सिर्फ मेहनत और विश्वास के तर्ज पर नहीं मिलती। इसमें आपके आलोचकों का भी काफी अहम किरदार होता है। यदि आप आलोचनाओं से परेशान होने की बजाए उनसे सीख लेकर अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में जुट जाएं तो निश्चित ही कामबायी आपके कदम चूमेगी। इसलिए अपने आलोचकों की राय का हमेशा स्वागत करें।

2. कही सुनी बातों पर गौर न करें -

अक्सर कॉलेज या ऑफिस में हमें दूसरों के जरिए यह बात पता चलती है कि किसी तीसरे ने आपके बारे में क्या कहा है। इस तरह की बातें अफवाह भी हो सकती हैं या आपके सामने उसे तोड़-मरोड़कर भी पेश किया जा सकता है। इसलिए किसी की बातों में आकर जबरन अपने आलोचक पैदा करने से बचें।

3. गुटबाजी न करें -

यह बात ठीक है कि दुश्मन का दुश्मन आपका सबसे अच्छा दोस्त होता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस तरह की गुटबाजी का अंत में आपको बड़ा हर्जाना भुगतना पड़ सकता है। अक्सर कॉलेज और ऑफिस के लोग कई धड़ों में बंटे होते हैं।

ऐसे में किसी भी गुट में शामिल होने की बजाए सभी के साथ सामान्य व्यवहार करें तो ज्यादा बेहतर होगा। गुटबाजी के जरिए आप खुद अपने आलोचकों को तंज कसने का निमंत्रण दे बैठोगे।

4. आलोचनाओं की वजह को पहचाने -

कई बार हमारे अच्छे दोस्त ही हमारे सबसे बड़े दुश्मन बन जाते हैं। इसके बाद आपको उनकी आलोचनाओं का शिकार होना पड़ता है। ऐसे में संबंधित व्यक्ति से वाद-विवाद में उलझने की बजाय अपने अंदर छुपी कमी और सामने वाले के व्यवहार को परखने की कोशिश करें।

ऐसा व्यक्ति भविष्य में आपके लिए ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता था। इस विवाद को अपने तक ही सीमित रखें। दूसरों को बताने से आप हंसी के पात्र बन जाएंगे और भविष्य में कोई तीसरा भी आपके जज्बातों के साथ खिलवाड़ कर आपकी चौतरफा आलोचना करेगा।