महिलाओं में कमर दर्द की शिकायत के कारण (Mahilao me kamar dard ki shikayat ke karan)


महिलाओं में कमर दर्द की शिकायत एक आम बात है। इस कमर दर्द के कई कारण हो सकते हैं। इसे नजरअंदाज करना खतरा भी हो सकता है। हालांकि पौष्टिक भोजन और नियमित रूप से एक्सरसाइज करने से कमर दर्द की शिकायत को दूर किया जा सकता है।

 

1. डॉक्टरों की मानें तो गर्भावस्था या उसके बाद महिलाओं को कमर दर्द की शिकायत हो जाती है। इसका सबसे बड़ा कारण गलत तरीके से बैठना और सोना होता है। वहीं, लंबे समय तक सही तरीके से न बैठकर बच्चे को दूध पिलाने से भी कमर दर्द की समस्या हो सकती है।

 

 

2. वहीं शारीरिक कमजोरी के चलते भी कमर दर्द की समस्या होती है। इस दौरान महिलाओं का सही ढंग से बैठना बहुत जरूरी है। आजकल फास्ट फूड खाने का चलन भी बढ़ गया है। इससे वजन बढ़ने का यकतरा रहता है।

 

 

3. वजन बढ़ने से शरीर का सारा भार रीढ़ की हड्डी पर पड़ता है, जो मांसपेशियों पर अत्यधिक दबाव डालकर जोड़ों में खिंचाव पैदा करता है। परिणाम स्वरूप कमर दर्द की शिकायत होने लगती है। महिलाओं में पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज (पीआईडी) यानि प्रजनन अंगों का संक्रमण होने से भी कमर में दर्द हो सकता है।

 

4. महिलाओं की खाने की आदत अनियमित होने से उन्हें कमर दर्द की शिकायत होती है। उनके खाने में जरूरी पोषक तत्वों जैसे कैल्शियम, विटामिन डी, आयरन आदि की कमी से शरीर में कमजोरी आ जाती है।

 

5. वहीं, अनियमित पीरियड्स की वजह से भी कमर दर्द की शिकायत हो सकती है। कई बार अधिक खून बहने से कमर दर्द होता है। अगर लंबे समय तक ऐसा हो रहा है तो एक बार डॉक्टर को जरूर दिखा लें। विटामिन डी कमी से भी कमर दर्द की शिकायत हो सकती है।


क्या ये लेख आपके लिए उपयोगी है?

हां नहीं  

सम्बंधित लेख