महिलाओं में प्रजनन की समस्या के घरेलू उपाय (Mahilao me prajnan ki samasya ke gharelu upay)


आज के समय में बढ़ता तनाव, अनियमित पीरियड्स, अल्‍कोहल में मौजूद टॉक्सिन, हाई या फिर लो बीएमआई, जीवनशैली और आहार से जुड़े कुछ ऐसे कारक है जो महिलाओं की प्रजनन क्षमता को बुरी तरह से प्रभावित करते हैं। महिलाओं के फर्टिलिटी लेवल को बढ़ाने के लिए डॉक्टर भी उन्हें हेल्‍दी डाइट लेने की सलाह देते हैं।

मां बनने के लिए हर महिला को ओव्‍यूलेशन के साथ साथ हेल्‍दी डाइट लेना भी बेहद जरूरी होता है। पौष्टिक तत्‍वों से भरपूर खाने के साथ महिलाओं को अपनी लाइफस्‍टाइल हेल्‍दी बनाए रखने की जरूरत होती है। इसके अलावा रोजाना एक्‍सरसाइज भी करनी चाहिए। ऐसा करने से फर्टिलिटी में जल्दी सुधार होता है।

आइए जानते हैं वो कौन सी हैं वो 5 चीजें जिसका सेवन करने से महिलाएं अपना फर्टिलिटी लेवल बढ़ा सकती हैं।

 

 

1. हरी सब्जियां  -

हरी सब्जियों का सेवन करने से प्रजनन अंग स्वस्थ रहते हैं। हरी सब्जियों में मौजूद आयरन, फोलिक एसिड और एंटीऑक्सीडेंट महिला को मां बनने में मदद करता है।

2. सूखा मेवा -

मां बनने के लिए महिलाओं को अपनी डाइट में सूखे मेवों को शामिल करना बिल्कुल नहीं भूलना चाहिए। इनमें मौजूद ओमेगा 3 फैटी एसिड शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होता है।

3. फल -

अगर आप हेल्दी तरीके से कंसीव करना चाहती हैं तो फल खाना बहुत जरूरी है। फलों में संतरा, स्ट्रॉबेरी, ब्लूबेरी और किवी फ्रूट का रोजाना सेवन करें। इन फलों में मौजूद विटामिन सी जल्दी कंसीव करने में मदद करता है।

4. रेशा युक्त खाना -

अपने भोजन में रेशा युक्त चीजें जैसे साबुत अनाज, गेहूं की रोटियां, ब्राउन राइस और बींस को जरूर शामिल करें। ये पाचन तंत्र को मजबूत बनाने के साथ साथ फर्टिलिटी को भी बेहतर बनाता है।

5. अल्कोहल और स्मोकिंग से बचें -

स्मोकिंग और अल्कोहल का सेवन गर्भधारण की क्षमता को बुरी तरह से प्रभावित करता है। अगर आप प्रेग्नेंट होना चाहती हैं तो इन सबसे दूरी बनाना ही आपके लिए बेहतर होगा।

6. दूध -

दूध में कैल्शियम के साथ-साथ प्रोटीन भी मौजूद होता है। दूध में मौजूद प्रोटीन की मदद से फर्टिलिटी हॉर्मोन जल्दी बनने में मदद मिलती है।


क्या ये लेख आपके लिए उपयोगी है?

हां नहीं  

सम्बंधित लेख