नक्शे वाली सुंदर रोटी (Nakshe wali sundar roti)


सना की शादी को 6 महीने हो गए थे और वो अपने पति के साथ बेहद खुश रहती थी। लेकिन एक दिन सना के जीवन में भूचाल आ गया और भूचाल कुछ और नहीं रोटी गोल बनाने का था।

सना किचन में रोटी गोल बनाने की प्रेक्टिस कर रही थी, अचानक से वरुण ने सना से पूछ लिया "सना रोटी बनाते हुए इतना परेशान क्यों हो रही हो।" सना ने जवाब में कहा "तुम्हे दिखाई नहीं दे रहा रोटी गोल बनाने की कोशिश कर रही हूं, पिछले महीने तुम्हारी मम्मी ने मुझे डांट दिया था कि शादी को 4 महीने हो गए हैं रोटी गोल बनाने नहीं आती और अब वो दो दिन बाद आ रही हैं फिर से ताने मारेंगी।"

"अरे तो इसमें परेशान होने की क्या जरूरत है, 2 महीने थे बीच में तुम्हे सीख लेनी चाहिए थी न, अब मेहनत करके क्या उखाड़ लोगी तुम।" वरुण ने सना को हसंते हुए कहा

वरुण ने रोटी ली और उसके ऊपर एक उसी रोटी के आकार का कटोरा रखा "लो बन गयी न तुम्हारी नक़्शे वाली रोटी गोल।" वरुण ने सना का मजाक बनाते हुए कहा....

"लेकिन तुम्हे रोटी बनाने की प्रेक्टिस करते रहनी चाहिए, कभी तो मुझे नक्शे वाले सुंदर रोटी के अलावा गोल रोटी भी खिला दो" वरुण ने सना को चिढ़ाते हुए कहा..... 

सना आंख निकालती हुई बेलन उठाती है और दोनों ये देखकर हंस पड़ते हैं।


क्या ये लेख आपके लिए उपयोगी है?

हां नहीं  

सम्बंधित लेख