प्रेग्नेंसी में इन 5 चीजों का न करें सेवन (Pregnancy me in 5 cheezo ka na kare sewan)


प्रेग्नेंसी के समय महिलाओं को अपनी हेल्थ को लेकर सावधान रहने की जरूरत होती है। इस समय हेल्थ को सही रखने के लिए उन्हें अच्छा डाइट लेना चाहिए। उनकी एक गलती आपके मां और बच्चे दोनों के लिए खतरा बन सकती है। आपको बता दें कि कुछ लोगों को पता भी नहीं चलता और गलत चीजों का सेवन करने से उनका गर्भपात हो जाता है।

इसलिए प्रेग्नेंसी के समय कुछ भी खाने से पहले उसके बारे में पूरी जानकारी जरूर लें। आइए आपको बताते हैं कि प्रेग्नेंसी के दौरान आपको किन चीजों का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए।

 

1. पपीता -

पपीता सेहत के लिए काफी अच्छा होता है लेकिन प्रेग्नेंसी के दौरान यह काफी खतरनाक साबित हो सकता है। प्रेग्नेंसी के दौरान पपीता खाने के लिए मना किया जाता है। दरअसल पपीता काफी गर्म होता है ऐसे में यह मिसकैरिज या गर्भपात का कारण बन सकत है।

2. अल्कोहल -

अल्कोहल में कई ऐसे पदार्थ होते हैं जो गर्भ में पल रहे बच्चे के विकास को प्रभावित कर सकता है। प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को शराब से बिल्कुल दूरी बना लेनी चाहिए। इस समय अल्कोहल का सेवन करने से मां और बच्चे दोनों के शरीर पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसका सेवन करने से गर्भपात हो सकता है।

3. अत्यधिक मात्रा में नमक -

प्रेग्नेंसी के दौरान जरूरत से ज्यादा नमक का सेवन करना भी बिल्कुल अच्छा नहीं होता। प्रेग्नेंसी में ज्यादा नमक खाने से न केवल ब्लड प्रेशर बढ़ता है बल्क‍ि चेहरा, हाथ, पैर में सूजन आ जाती है। इस समय नमक ज्यादा मात्रा में खाने से जोड़ों में दर्द भी होने लगता है। शरीर में कमजोरी आने लगती है।

4. चाइनीज फूड -

चाइनीज फूड में एमएसजी होता है यानी मोनो सोडियम गूलामेट, जो फीटस के विकास के लिए हानिकारक है। वहीं इसके चलते कई बार जन्म के बाद भी बच्चे में डिफेक्ट्स दिखाई देते हैं। इसमें मौजूद सोया सॉस में नमक की भारी मात्रा होती है, जो प्रेग्नेंट महिलाओं में हाई ब्लड प्रेशर का कारण बन सकती है. यह बेहद खतरनाक है।

5. कच्चा अंडा -

जिम जाने वाले लोग अक्सर कच्चे अंडे खाते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि प्रेग्नेंसी में इसका सेवन करने से कई दुष्परिणाम हो सकते हैं। दरअसल अंडे में सालमोनेला बैक्टीरियम होता है, जिसके कारण फूड प्वॉयजनिंग भी हो सकती है। प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है, इसलिए इस बैक्टीरिया के कारण वो फूड प्वॉयजनिंग का शिकार हो सकती हैं।


क्या ये लेख आपके लिए उपयोगी है?

हां नहीं  

सम्बंधित लेख