शादीशुदा जिंदगी में लाए मिठास, अपनाएं ये टिप्स (Shadishuda zindagi me laye mithas, apnaye ye tips)


पति-पत्नी के रिश्ते की मिठास को बनाए रखने के लिए दोनों के बीच शिष्टाचार या मैनर्स का होना बहुत जरूरी है। पति-पत्नी के बीच में कई तरह के छोटे-मोटे झगड़े, बहुत-सी उलझनें और आपसी मन-मुटाव इसी वजह से होते हैं क्योंकि दोनों के बीच शिष्टता की कमी होती है। अगर आप चाहते हैं कि आपका रिश्ता काफी गहरा हो तो आपको एक दूसरे का सम्मान करना पड़ेगा। एक दूसरे की बातों को समझना होगा।

आइए आपको बताते हैं कि पति-पत्नी के रिश्ते को मजबूत बनाने के लिए आपको क्या-क्या करना होगा-

 

1. एक-दूसरे की बातों पर ध्यान न देना या उन्हें अनसुना कर देना बुरी आदत होती है। इससे ऐसा लगता है जैसे आपके पार्टनर की बातें या उसके विचार आपके लिए ज्यादा मायने नहीं रखते। ऐसा करने से बचें।

 

2. हर बात पर टोकना भी रिश्तों में तनाव पैदा करता है। अगर आप अपने पार्टनर की किसी बात से असहमत हैं तो उसे प्यार से समझाएं।

 

3. आपसी बातचीत में शब्दों का चयन भी बहुत मायने रखता है। सॉरी, थैंक्यू और प्लीज जैसे शब्द आपकी अच्छी आदतों को को दर्शाते हैं। इससे रिश्ते मजबूत बनते हैं।

 

4. अगर घर पर कोई मेहमान या रिश्तेदार होंतो उनके सामने आपसी व्यवहार में सहजता और प्यार झलकना चाहिए.

 

5. रिश्ते में एक दूसरे की मदद करना बेहद जरूरी है। आपसी काम में जितना संभव हो एक-दूसरे की मदद करें और अगर पार्टनर का काम कम नहीं कर सकते, तो उसे बढ़ाने की गलती तो बिल्कुल न करें।

 

6. एक दूसरे को ताने देने से बचें। मजाक करना अलग बात है लेकिन मजाक उड़ाने और ताने देने से रिश्ते बिगड़ते हैं क्योंकि इससे आत्मसम्मान को ठेस पहुंच सकती है।

 

7. एक दूसरे के परिवार को लेकर कोई भी गलत बात न करें या छींटाकशी न करें। एक दूसरे के परिवार का सम्मान करना सीखें। तभी आप दोनों के बीच भी सम्मान बना रहेगा।

 

8. गुस्से में बात करने से जितना हो सके बचें। जब भी आप गुस्से में हों तो कोशिश करें कि पहले गुस्सा शांत हो जाए फिर बात करें।

 

9. जितना हो सके बहस से बचें, लेकिन अगर बहस हो जाए तो असभ्य भाषा या अपशब्द का प्रयोग न करें। न ही रिश्ता खत्म करने की धमकी दें। गुस्से में इस्तेमाल किए गए अपशब्दों का असर आपके जीवन पर पड़ सकता है।

 

10. बदले की भावना मन में न रखें। पिछली बातों का या पहले हुए किसी अपमान का बदला लेने की भावना मन में बिल्कुल न पालें। यह भी अशिष्ट व असभ्य व्यवहार में आता है। जहां प्यार और सम्मान होगा वहां बदले की भावना होनी ही नहीं चाहिए।

 

11. शादी के बाद पार्टनर्स टेबल मैनर्स ज्यादा फॉलो नहीं करते लेकिन ऐसा करना चाहिए। यह एक अच्छे रिश्ते के लिए बहुत जरूरी है। खाते समय ज्यादा आवाज न करें। धीरे-धीरे चबा-चबाकर खाएं और मुंह बंद कर के खाएं। खाते वक्त गंभीर या विवादास्पद मुद्दे पर बात करने से बचें। लाइट और अच्छे मूड में खाना खाएं। खाना खआते वक्त किसी से फोन पर भी बात न करें।

 

12. अगर आपके पार्टनर के नाम पर कोई लेटर, कुरियर, पार्सल या गिफ्ट आया है तो उसे खुद खोलना गलत है। आप अपने पार्टनर के आने का इंतजार करें। बिना बताए किसी का पैकट खोलना  अच्छी बात नहीं है।

 

13. समय की पाबंदी भी गुड मैनर्स में आती है। पार्टनर्स आपस में एक-दूसरे को इंतजार करवाते वक्त यह नहीं सोचते कि इसका क्या असर पड़ेगा लेकिन हर किसी के समय और इंतजार की कीमत होती है, यह समझना बहुत जरूरी है। 

 

14. वहीं किसी भी रिश्ते में स्पेस बहुत जरूरी है और यह भी आपके मैनर्स का ही हिस्सा है। आपस में शेयरिंग और केयरिंग की भावना भी जरूरी है। एक-दूसरे को सपोर्ट करें, आपस में कंपीट न करें। किसी एक की कामयाबी दूसरे की भी सफलता है, उसे बधाई दें और सेलिब्रेट करें। उससे जलन न करें। एक-दूसरे की तारीफ जरूर करें और समय-समय पर सरप्राइज भी दें।


क्या ये लेख आपके लिए उपयोगी है?

हां नहीं  

सम्बंधित लेख