दिवाली में लाएं चेहरे पर सोने सा निखार - शहनाज़ हुसैन टिप्स
त्वचा (Skin Care Tips)

दिवाली में लाएं चेहरे पर सोने सा निखार - शहनाज़ हुसैन टिप्स

Women Raftaar

दिवाली का त्यौहार शुरू हो चूका है। स्वभाभिक है कि दीपों के इस त्यौहार में आप भी रंगों की तरह दमकना चाहती होंगी। दिवाली में हम घर बाहर सभी जगह को सुन्दर बनाने तथा सजाने में कोई कसर नहीं छोड़ते। दिवाली के त्यौहार में घर की सफाई, डेकोरेशन, लाइटिंग तथा शॉपिंग की ज्यादा जिम्मेदारी महिलाएं ही निभाती हैं।

बाकि तैयारियों की वजह से महिलाएं अपने सौन्दर्य की अनदेखी कर बैठती हैं, जिसकी वजह से पावन दिन पर आप बूझे हुए और थके हुए से दिखते हैं। लेकिन अगर आप बाकि तैयारियों के साथ ही अपनी त्वचा, बालों तथा बाहरी लुक पर ध्यान दें तो इस पावन त्यौहार का मजा कई गुणा बढ़ जायेगा तथा इस पावन दिन को पूरे उत्साह के साथ आप बाकी लोगों के साथ खुशनुमा माहौल में हँसते खेलते मनाएंगी। आपको महज कुछ सौन्दर्य सावधानियां अपनानी होंगी तथा बाजार के महंगे सौन्दर्य प्रसाधनों की बजाय घरेलू ऑर्गनिक प्रसाधनों का उपयोग करना होगा। यह घरेलू सामान आपको आपके किचन में आसानी से मिल जाएंगे।

इस मौसम में सामान्य तथा रूखी त्वचा को जैल के साथ दिन में दो बार साफ करना चाहिए। क्लीनजर से त्वचा की हल्के तरीके से मालिश कीजिए तथा धूल मिट्टी को रूई से हटा दीजिए। इसके बाद त्वचा पर रूई की मदद से गुलाब जल तथा स्किन टोनर का प्रयोग कीजिए।

आज कल वातावरण में प्रदूषण खतरनाक स्तर को पार कर रहा है तथा वातावरण में रासायनिक वायु प्रदूषण, गन्दगी तथा कालिख एवं मैल विद्यमान रहती है। इन सबसे त्वचा सम्बन्धी विकार पैदा होते है। शहरों में रहने वाली महिलाओं को रात्रि में अपने अंगों की सफाई आवश्यक रूप से करनी चाहिए। रात्रि में सभी प्रकार के सौंदर्य प्रसाधन शरीर से हटा देने चाहिए क्योंकि इनसे त्वचा में रूखापन आ जाता है तथा त्वचा का प्राकृतिक अम्लीय-क्षारीय संतुलन भी बिगड़ जाता है जिससे त्वचा में चकत्ते, मुंहासे, फोड़े, फुंसियां आदि पैदा हो जाती है।

हालांकि मौसम में ठंडक जरूर आ गई है, लेकिन दिन का तापमान 30 डिग्री के आसपास दर्ज किया जा रहा है। यदि आप कामकाजी महिला हैं तथा दिन भर खुले वातावरण में सफर करती हैं तो सुबह घर से बाहर निकलने से पहले त्वचा पर सनस्क्रीन का उपयोग कीजिए तथा यदि आप घर के अंदर रह रही हैं तो त्वचा पर मॉइस्चराइजर का उपयोग कीजिए।

आज कल बाजार में मॉइस्चराइजर क्रीम तथा तरल रूप में उपलब्ध हैं। रूखी त्वचा के लिए रात्रि में क्लींजर लगाकर इसे पूरे चेहरे पर मल लीजिए तथा बाद में काॅटनवूल की मदद से इसे साफ कर लीजिए। जिसके बाद आप त्वचा पर सीरम लगा लीजिए। तैलीय त्वचा को भी मॉइस्चराइजर की जरूरत होती है। अगर तैलीय त्वचा पर क्रीम लगाई जाए तो कील मुंहासे उभर आते है। तैलीय त्वचा में नमी प्रदान करने के लिए एक चम्मच शुद्ध ग्लिसरीन में 100 मिली लीटर गुलाब जल मिलाऐं। इस मिश्रण को फ्रिज में एयरटाईट जार में रखे। इस मिश्रण को क्लीनजिंग के बाद उपयोग कीजिए। उससे त्वचा में तैलीयपन की बजाय नमी का प्रभाव आता है। त्वचा को साफ करने के लिए दूध या फेसवॉश का उपयोग करें।

फेशियल स्क्रब से चेहरे की त्वचा में लालिमा तथा चमक आती है। हफ्ते में दो बार फेशियल स्क्रब का उपयोग करना चाहिए। पिसे हुए बादाम या चावल पाऊडर को दही तथा थोड़ी सी हल्दी में मिला लीजिए। आप इसमें नींबू के छिलके भी मिला सकते हैं। अब इसे चेहरे पर लगाएं।