स्किन को जवान बनाए रखने के लिए अपनी डाइट में किन चीज़ों को करना चाहिए शामिल, जानें हमारे एक्सपर्ट्स से
त्वचा (Skin Care Tips)

स्किन को जवान बनाए रखने के लिए अपनी डाइट में किन चीज़ों को करना चाहिए शामिल, जानें हमारे एक्सपर्ट्स से

Women Raftaar

आप जैसा खाते हैं उसी का फल आपको मिलता है। आपने कितनी बार ऐसा सुना होगा? लेकिन यह सच है जैसे आप खाएंगे उसी तरह के परिणाम आपको अपनी स्किन पर नजर आएँगे। तो कभी आपने सोचा है कि आपकी डाइट आपकी स्किन को पोषित कर रही है या त्वचा को खराब कर रही है?

हम हर समय सब कुछ तो नहीं खा सकते, लेकिन संतुलित भोजन बेहद जरूरी है। इस लेख में हम आपको हेल्दी स्किन के लिए पांच ऐसी आवश्यक सामग्रियां बता रहे हैं जिनका सेवन करना रोजाना करना बेहद जरूरी है।

विटामिन सी -

विटामिन सी एक आवश्यक विटामिन है जिसमें कई कार्य करने की भूमिकाएं मौजूद होती है। यह एक शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट है, इसलिए इसका उपयोग त्वचा की यूवी क्षति को कम करने, त्वचा की टोन को हल्का करने और सूर्य के खिलाफ प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने के लिए किया जाता है। यह शरीर के कोलेजन उत्पादन के लिए भी महत्वपूर्ण है और त्वचा की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है।

स्रोत: पालक, टमाटर, नींबू, अंगूर, संतरे, बेल पेपर, पपीता

एक्शन: इम्यूनिटी बूस्टिंग, स्किन ब्राइटनिंग, एक समान टोन

विटामिन ई -

विटामिन ई एक एंटीऑक्सिडेंट है जो त्वचा को मुक्त कण क्षति से बचाने में मदद करता है। विटामिन सी के साथ, यह त्वचा पर सूरज की क्षति को कम करता है, कोलेजन के टूटने को धीमा कर देता है। विटामिन ई त्वचा को नमी देने में भी मदद करता है।

स्रोत: बीज और नट्स - अखरोट, सूरजमुखी के बीज, अलसी के बीज

एक्शन: फोटोप्रोटेक्शन, मॉइस्चराइजिंग, चिकनी त्वचा को बनाए रखना

एंटीऑक्सीडेंट :

एंटीऑक्सीडेंट त्वचा को सूरज या उसकी युवी रेडिएशन से होने वाले फ्री रेडिकल डेमेज, प्रदूषण और अन्य बाहरी कारकों से बचाता है। यह सेल को ठीक करता है सनबर्न, समय से पहले झुर्रियां आदि से भी बचाता है।

कुछ शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट हैं: कैरोटीनॉयड जैसे बीटा कैरोटीन, लाइकोपीन, आइसोफ्लेवोन्स, रेस्वेराट्रोल, अल्फा लिपोइक एसिड, ग्लूटाथिओन आदि।

स्रोत: कैरोटेनोइड्स: गाजर, शकरकंद, पीली शिमला मिर्च, पालक, कद्दू, ब्रोकली

लाइकोपीन: टमाटर, अनार

इसोफ्लेवोन्स : सोया

रेस्वेराट्रोल : अंगूर

क्रिया: त्वचा की सुरक्षा, रिपेयर और उपचार करता है, त्वचा की रंगत साफ करता है

खनिज - जिंक

जिंक त्वचा के लिए एक आवश्यक खनिज है। जिंक घाव भरने, नई त्वचा कोशिकाओं के उत्पादन में मदद करता है। इसमें सूजनरोधी और जीवाणुरोधी गुण पाए जाते है। जिंक से भरपूर आहार मुंहासों को कम करता है, त्वचा को बिना किसी निशान के ठीक करने में मदद करता है।

स्रोत: अखरोट, सूरजमुखी के बीज, ब्रोकोली

क्रिया: सूजनरोधी, मुँहासे कम करता है

ओमेगा - 3 एसिड -

इसमें मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं और स्किन को किसी भी परेशानी से दूर रखता है। इसमें सूजनरोधी गुण मुहांसों, लालिमा या एरिथिमिया से छुटकारा दिलाते हैं।

स्रोत: वसायुक्त मछली जैसे सैल्मन, फ्लैक्ससीड्स, एवोकाडो

एक्शन : एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-एजिंग, त्वचा के कोलेजन को बढ़ाता है

भोजन या ओरल सप्लीमेंट के द्वारा इन सामग्रियों को अपने दैनिक आहार में शामिल करने से आपकी त्वचा लंबे समय तक स्वस्थ बनी रहेगी।