योग से पाएं चमकती त्वचा - Yoga Se Payein Chamakti Twacha
त्वचा (Skin Care Tips)

योग से पाएं चमकती त्वचा - Yoga Se Payein Chamakti Twacha

Women Raftaar

अच्छी सेहत का सबसे बड़ा और सरल माध्यम है योग। योग का हर आसन शरीर के कई अंगों व हिस्सों को किसी न किसी तरह से प्रभावित करता है। इसी तरह चेहरे की त्वचा को स्वस्थ और सुंदर बनाने के लिए भी कई आसन हैं जिनसे आप चेहरे पर बिना कोई केमिकल के प्रयोक के या पार्लर में समय व पैसे व्यर्थ किये, प्राकृतिक सुंदरता और चमक पा सकती हैं जो लंबे समय तक आपके साथ रहेगी। लेकिन इसके लिए आपको नीचे दिए आसनों का निरंतर अभ्यास करना होगा-

पद्मासन - Padmasan

मन को शांत, तन को स्वस्थ और चेहरे की कांति के लिए यह एक सरल और कारगर आसन है। सबसे पहले दाएं पैर को बायीं जांघ पर और बाएं पैर को दायीं जांघ पर रखें। कमर सीधी और चेहरा सामने की ओर हो व अपने दोनों हाथों को दोनों पैरों के घुटने पर रखते हुए ध्यान मुद्रा में आयें। इस आसन को शांत वातावरण में करना और भी फायदेमंद होता है।

धनुरासन - Dhanurasana

ज़मीन पर पेट के बल लेटें, अपने दोनों पैरों को घुटने से मोड़ें और अपनी छाती को ऊपर उठाते हुए दोनों हाथों से पैरों को पकड़ने की कोशिश करें। अब पेट पर भार डालते हुए पैरों को ऊपर उठाएं और एक धनुष के आकार जैसी अवस्था में आयें, जिसमें आपने दोनों पैरों को हाथों से पकड़ा हुआ है और आपका फेस आसमान की दिशा में होना चाहिए। 20 सेकंड तक इसी मुद्रा में रहें फिर धीरे-धीरे सामान्य अवस्था में आ जाएँ।

हालासन - Halasana

चेहरे पर प्राकृतिक चमक के लिए इस आसन का अभ्यास करें। सबसे पहले पीठ के बल ज़मीन पर लेटें, अब पैरों को बिना मोड़ें धीरे-धीरे उठाएं और 90 डिग्री के कोण तक सीधा करें, पैरों को सीधा उठाने के लिए हाथों का सहारा लें। इस मुद्रा के बाद पैरों को 180 डिग्री तक घुमाएं, जिससे आपके पैर, सिर से ऊपर होंगें और हाथ बिलकुल सीधे ज़मीन पर टिके हुए। सामान्य अवस्था में आते हुए शरीर या पैरों को किसी भी तरह का झटका न दें।

सर्वांगासन - Sarvangasana

पीठ के बल लेट जाएं, अपने हाथों को जमीन पर सीधा रखें। सांस अंदर लेते हुए हाथों के सहारे से अपने पैरों को सीधा ऊपर उठाएं, इस स्थिति में कंधे से नीचे तक का भाग सीधा हवा में होगा और शरीर का सारा भार कंधों पर डालें। कुछ देर इसी अवस्था में रहने के बाद सांस छोड़ते हुए धीरे-धीरे कमर और पैरों को नीचे लाएं।

शीर्षासन - Shirshasana

सिर के बल किये जाने के कारण इस आसन का यह नाम है। इस आसन में सिर के बल खड़ा होना होता है जिसमें शरीर का सारा भार हाथों व सिर पर होता है। वज्रासन में बैठें और दोनों हाथों को कोहनी तक मोड़कर उँगलियों को जोड़ें और ग्रिप बना लें। अब सिर को ज़मीन पर टिकाते हुए धीरे-धीरे अपने पैरों को ऊपर उठाएं और बिलकुल सीधा खड़ा कर लें। शरीर का सारा भार सिर पर आना चाहिए। शुरुआत में यह आसन दीवार के सहारे से भी किया जा सकता है अन्यथा किसी विशेषज्ञ से सलाह जरूर लें।

शवासन - Shavasana

शव अर्थात मृत शरीर (Dead Body), इस आसन में अपने पूरे शरीर को ढीला छोड़कर ज़मीन पर लेटें और आँखें बंद करके अपनी साँस पर ध्यान दें। यह सबसे रिलैक्सिंग आसन है। इससे मन शांत होता है और तनाव से छुटकारा मिलता है, जिसके परिणामस्वरूप चेहरे पर चमक आना स्वाभाविक है।

Raftaar
women.raftaar.in