करियर में सॉफ्ट स्किल्स सीखने के सरल तरीके
पर्सनालिटी (PERSONALITY)

करियर में सॉफ्ट स्किल्स सीखने के सरल तरीके

Career me soft skills seekhne ke saral tarike

Women Raftaar

क्या आपके साथ कभी ऐसा हुआ है कि आपने किसी जॉब इंटरव्यू की तैयारी पूरे कॉन्फिडेंस से की, क्योंकि आपके पास उसके लिए ज़रूरी योग्यताएं थीं, उसके बावजूद आपका सिलेक्शन न हुआ हो? असल में इसकी वजह रही, आपमें सॉफ्ट स्किल्स का कम होना।

करियर में आप योग्यता के आधार पर किसी कंपनी के अंदर चले तो जाते हैं, लेकिन कामयाबी सॉफ्ट स्किल्स की बदौलत ही मिलती है। यहां हम आपको ऐसे ही कुछ सॉफ्ट स्किल्स के सरल तरीकों बारे में बता रहे हैं, जिनको ध्यान में रखकर आप भी सफलता की सीढियाँ चढ़ सकते हैं-

1. कम्यूनिकेशंस स्किल्स -

शानदार कम्यूनिकेशन स्किल्स रखने वाला व्यक्ति दूसरों के व्यवहार का सटीक आंकलन कर सकता है, बेकार के विवाद से बच सकता है, मतभेद की स्थिति को दूर रख सकता है और नए बदलाव व स्थितियों को संभाल सकता है।

2. पॉजि़टिव एडिट्यूड -

अपने काम के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण और सम्मान का भाव रखना किसी भी कर्मचारी की विश्वसनीयता को बढ़ा देता है।

3. पर्सनल ग्रूमिंग -

किसी इंटरव्यू के लिए आप जिस तरह से अपने-आपको तैयार करते हैं, उसका असर आपके इंटरव्यू लेने वाले पर पड़ता है। यही बताता है कि आप प्रोफेशनली अपने-आपको किस तरह से प्रेजेंट करते हैं। यहां तक कि अगर आपने अपने रिज्यूमे में तो अपने-आपको बहुत अच्छे तरीके से प्रस्तुत किया है, लेकिन इंटरव्यू के दौरान यूं ही चले गए हैं तो इससे भी आप इंटरव्यू में फेल हो सकते हैं।

4. जि़म्मेदारी की भावना -

अपनी गलतियों से बचने की बजाय अगर आप आगे आकर उसकी जि़म्मेदारियां संभालते हैं तो यह आपकी ज्ञान और कामयाबी के नए रास्ते खोल देता है।

5. टीमवर्क -

एक टीम का हिस्सा होने पर ज़रूरी है कि आप दूसरों के काम और उनका सम्मान करें। अपनी बात कहने के साथ दूसरों की बात सुनने का हुनर आना भी ज़रूरी होता है।

6. टाइम मैनेजमेंट स्किल्स -

अगर आप समय का सदुपयोग करना जानते हैं तो काम चाहे कितनी टाइट डेडलाइन के साथ हो या कम समय में बहुत ज़्यादा करना हो, तो ये आपके लिए बाएं हाथ का खेल होना चाहिए।

7. आलोचनाओं का सामना करें -

ऑफिस में आलोचनाओं से बचना ही नहीं, उन्हें सुनकर, उनसे सीख लेकर या उन्हें बर्दाश्त करके आगे बढ़ जाना भी आना ज़रूरी है।

8. लचीला रवैया अपनाए -

काम के प्रति फ्लेक्सिबल रवैया रखना आपको चुनौतियों से भागने की बजाय उनका सामना करने में सक्षम बनाता है।

9. लीडरशिप क्वॉलिटी बढ़ाएं -

इस क्वॉलिटी की सबसे बड़ी खासियत ही यह है कि ये आपको सभी को साथ लेकर चलने और सभी के गुणों का लाभ उठाने के योग्य बना देती है, जो किसी भी कंपनी की सफलता को सुनिश्चित करती है।

10. विवादों को संभाले -

विवाद को संभालना ऑफिस वर्क का एक अभिन्न भाग हैं। चाहे सहयोगियों की बात हो या क्लाइंट की, मतभेदों का सफलतापूर्वक सामना करना एक बहुत बड़ा सॉफ्ट स्किल माना जाता है।

11. आगे बढ़ें -

जब हम काम करते हैं तो गलतियां होना या नाकामयाबी मिलना भी स्वाभाविक है, लेकिन आगे बढ़ जाने की खूबी की बदौलत हम अपनी पुरानी गलतियों या असफलता पर रुके न रहकर, उनसे सबक लेकर, अपनी काबिलियत को बढ़ाकर एक सुखद, सफल भविष्य की ओर आगे बढ़ जाते हैं।