कोरोनावायरस से होने वाले तनाव को फटाफट करें इन 5 तेल से दूर
फिटनेस (Fitness Tips)

कोरोनावायरस से होने वाले तनाव को फटाफट करें इन 5 तेल से दूर

Women Raftaar

कोरोनावायरस के कारण लोग अपने घरों में बंद हैं लेकिन लॉकडाउन की स्थिति सिर्फ और सिर्फ आपकी और हमारी सुरक्षा के लिए ही बनाई गयी है। ऐसे में लोग कोरोनावायरस के डर की वजह से तनाव में रहने लगे हैं। कोरोनावायरस से आपको डरने की जरूरत नहीं है बस कुछ सतर्कता बरतने की जरूरत है। साथ ही इस लेख में हम आपको ऐसे कुछ आवश्यक तेल बता रहे हैं जो आपको वायरस से सुरक्षित रखेंगे और उससे आपका बचाव भी करेंगे। साथ ही इन पांच तेलों से आपकी इम्युनिटी होगी स्ट्रांग। तो चलिए फिर शुरू करते हैं –

नीलगिरी आवश्यक तेल -

एक तेल जो सभी श्वसन समस्याओं, वायरस और किसी भी फ्लू के लिए बेहतरीन है। अपनी हथेलियों में 4-5 बूंद तेल डालें और इसे सूंघते हुए गहरी सांस लें। आप इसे डिफ्यूशर या पोटपुरी के रूप में भी उपयोग कर सकते हैं। आप इसे गर्म पानी में डाल सकते हैं और भाप के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं या कुछ बूंदें टिशू पर रख सकते हैं और आप जहां भी जाएं इसे अपने साथ ले जा सकते हैं।

लैवेंडर आवश्यक तेल -

हम सभी कोरोनावायरस के बारे में वास्तव में चिंतित हैं, वायरस के बारे में हर रोज की खबरें हम सभी को इतना तनाव दे रही हैं और इसलिए मैं लैवेंडर तेल का उपयोग करने की सलाह देता हूं। यह तेल एक बेहतरीन एंटी-स्ट्रेस और एंटी-वायरल तेल है जो आपको सोने में मदद करेगा। आप अपनी नसों को तनाव से दूर करने के लिए इसे डिफ्यूज़र या अपने नहाने के पानी में इस्तेमाल कर सकते हैं। कुछ बूँदें लें, इसे अपने पैरों और हथेलियों पर रखकर रगड़ें और इसे सूँघें।

रोजमेरी आवश्यक तेल -

हम सभी घर में रहने से तनाव में रहने लगे हैं कि इस दुनिया भर में हो क्या रहा है, ऐसे में रोजमेरी का तेल आपका तनाव दूर करने में आपकी मदद करेगा। सुबह अपने नहाने के पानी में इसका इस्तेमाल करें, मूड हल्का करने के लिए डिफ्यूज़र में कुछ बूंदें डालें और फिर इसका उपयोग करें।

थाइम आवश्यक तेल -

एक तेल जिसमें रोगाणुरोधी गुण होते हैं, ऊतक पर थाइम का उपयोग करें और साथ ही अपने आसपास चीजों को साफ करें जैसे टेबल, कार, फोन। यह आपके पाचन को भी बेहतर बनाता है, बस इसे अपने पेट के चारों ओर रगड़ें।

तुलसी आवश्यक तेल -

एक बहुत मजबूत एंटी-वायरल तेल जो आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत रखने में मदद करता है। पानी में 1-2 बूंद डालें और इसे पूरे दिन भर पीते रहें, अगर ऐसा नहीं कर पाते हैं तो बस सुबह खाली पेट इसे जरूर पिएं। एक और तरीका है कि आप इसकी 2-3 बूंदों को अन्य साधारण तेल के साथ मिलाकर, अपनी छाती और पेट पर मलें।

इन सभी तेलों में एंटी बैक्टीरियल, एंटी वायरल, एंटी माइक्रोबियल और एंटी फंगल गुण होते हैं, इससे यह बहुत अच्छे से अपना काम करते हैं और इस्तेमाल करने पर भी कोई नुकसान नहीं है।

Raftaar
women.raftaar.in