एब्डोमिनोप्लास्टी सर्जरी से आपकी टमी होगी स्लिम - Abdominoplasty surgery se aapka tummy hogi slim
बीमारी और उपचार (Health conditions and diseases)

एब्डोमिनोप्लास्टी सर्जरी से आपकी टमी होगी स्लिम - Abdominoplasty surgery se aapka tummy hogi slim

Women Raftaar

एब्डोमिनोप्लास्टी (Abdominoplasty) को टमी टक सर्जरी (Tummy Tuck) भी कहते हैं। जब किसी के पेट के निचले हिस्से यानि कि बेली (Belly) में बहुत ज्यादा फैट जमा हो जाता है तब एब्डोमिनोप्लास्टी के जरिये उसे हटाया जाता है।

एब्डोमिनोप्लास्टी सर्जरी (Abdominoplasty Surgery) के बाद पेट एकदम पतला और खूबसूरत नज़र आता है। सर्जरी करने के लिए साधारण एनीथीसिया दिया जाता है जिससे व्यक्ति बेहोश नहीं होता बल्कि उसे सर्जरी के दौरान दर्द महसूस नहीं होता और वह सचेत रहता है।

सर्जरी की जरूरत क्यों - Why Abdominoplasty

यदि आप स्लिम ट्रिम दिखने की चाह रखती हैं, पतली कमर आपका सपना है और पतले होने के सभी उपाय फेल हो चुके हों तो एब्डोमिनोप्लास्टी करवाई जा सकती है। हालाँकि मेडिकल कारणों से इसे करवाने की जरूरत नहीं होती है। इसकी जरूरत व्यक्ति की अपनी व्यक्तिगत पसंद पर निर्भर करती है।

सर्जरी के दिन - On the day of Abdominoplasty

  • सर्जरी वाले दिन अपने साथ किसी को लेकर जाएं जो आपको घर तक ला सके। साथ ही कुछ दिन आपकी देखभाल कर सके।

  • खाने-पीने के मामले में सर्जन के बताये दिशा-निर्देशों का पालन करें।

  • ढीले कपड़े पहन कर जाएं जिसमें सामने की तरफ बटन या चैन लगी हो।

सर्जरी के बाद - After Abdominoplasty

सर्जरी के बाद कुछ समय तक आपको दर्द और असामान्य लग सकता है। ज्यादा समय लेटे रहने की सलाह दी जाती है जिससे आपके पेट पर कम दबाव पड़ता है क्योंकि यह स्थिति कई दिन तक रह सकती है। पेट पर पड़े निशान समय के साथ हल्के हो जाते हैं।

रिस्क - Risks in Abdominoplasty

  • इंटरनल ऑर्गन को क्षति हो सकती है।

  • पेट पर बहुत ज्यादा दाग हो सकते हैं।

  • शरीर का तापमान बहुत ज्यादा गिर सकता है।

  • त्वचा को नुकसान हो सकता है।

  • नर्व डैमेज हो सकती हैं जो दर्द का कारण हो सकती हैं साथ ही नाभि के हिस्से में सुन्नपन भी आ सकता है।

  • ठीक होने की प्रक्रिया धीमी होती है।

परिणाम - Consequences of Abdominoplasty

अधिकांश लोग परिणाम से खुश होते हैं और ज्यादातर परिणाम सकारात्मक ही आता है। लेकिन फिर भी रिस्क को अनदेखा नहीं करना चाहिए। सर्जरी से पहले सर्जन से पूरी प्रक्रिया की जानकारी लें और क्या बदलाव होंगे उन पर भी बात करें।