क्या आप भी बिना प्लैन किए गर्भवती हो गई हैं? अब आगे क्या?
मां का स्वास्थ्य और देखभाल (Mother Care)

क्या आप भी बिना प्लैन किए गर्भवती हो गई हैं? अब आगे क्या?

Women Raftaar

पीरियड्स का मिस हो जाना या प्रेगनेंसी टेस्ट में वो दो लाइंस दिखना वो भी बिना प्लैन किए थोड़ा आपके लिए कठिन हो सकता है। बिना प्लैन किए गर्भधारण कर लेना, इस तरह की प्रेगनेंसी में आपको कई तरह की फीलिंग्स आती हैं - जैसे डर लगना, दुविधा, खुशी और आपको ऐसे में जल्द ही निर्णय लेने की आवश्यकता भी हो सकती है।

बिना प्लैन किए हुए प्रेगनेंसी आपको बेहद खुश कर सकती है -

आपके भीतर बढ़ते एक छोटे भ्रूण के बारे में अचानक से गुस्सा महसूस करना, बिना प्लैन के प्रेगनेंसी, दोनों माता-पिता के लिए एक शॉक और ख़ुशी लेकर आती है। सोचकर या जानकार आपको बेहद खुशी हो सकती है कि अब ऐसे संवेदनशील समय पर क्या करें। अगर आप भी कुछ इसी तरह की फीलिंग से गुजर रहे हैं और दुविधा में हैं तो हम आपकी मदद करेंगे –

डॉक्टर से सलाह लें -

यदि आपने अभी-अभी गर्भावस्था परीक्षण किया है और खुशखबरी सुनी है, तो हमारी सलाह है कि आप थोड़ी देर प्रतीक्षा करें और पूरी तरह से कन्फर्म करने के लिए एक और बार गर्भावस्था परीक्षण करें। चाहे आपने गर्भावस्था को आगे बढ़ाने का फैसला किया हो या नहीं, डॉक्टर के पास जाना फिर भी जरूरी है। वह आपको अगले चरणों के बारे में सलाह दे सकता है और आपके कुछ सवालों का जवाब दे सकता है। यदि आपको लगता है कि गर्भावस्था इस समय पर आपके लिए अनुकूल नहीं है, तो याद रखें कि आपके पास कई विकल्प हैं। चाहे वह गर्भपात, गोद लेना या गर्भावस्था के साथ जारी रखना है, यह निर्णय माता-पिता के हाथों में है।

भावनाओं को समझें -

गर्भावस्था एक जीवन बदलने वाला निर्णय है और यदि आप बच्चा चाहती हैं तो भी इसके बारे में पता लगाना पूरी तरह से सामान्य है। दुख, इंकार, आश्चर्य, शॉक, डिप्रेशन और मिजाज का अनुभव सामान्य हैं। कई महिलाओं को यह महसूस होने पर कि वे गर्भवती हैं, या अपने बच्चे के साथ संबंध स्थापित करने में सक्षम नहीं हैं, नकारात्मक भावनाओं का अनुभव करती हैं। गर्भावस्था से निपटने और भावनाओं को स्वीकार करने के लिए खुद को समय दें।

यह महसूस करना भी महत्वपूर्ण है कि गर्भावस्था का मतलब आपके सपनों का अंत नहीं है। बिना प्लैन के बच्चा होने का मतलब हो सकता है कि आपने जो सपने संजोए थे उनमें थोड़ा बदलाव आ सकता है, लेकिन इन सबको नकारात्मक तरीके से न लें।

प्लैन तैयार करें -

गर्भावस्था का मतलब है कि आपको अपने या अपने होने वाले बच्चे के के लिए एक आकस्मिक योजना तैयार करनी होगी और महत्वपूर्ण निर्णय लेने होंगे। निर्णय लेने से पहले सभी चीजों को ध्यान में रखें। अगर आप पहले से ही एक बच्चे के माता-पिता है, तो उस बच्चे की भी भावनाओं को ध्यान में रखें। अगर आप गर्भावस्था को आगे जारी रखना चाहती हैं और सब कुछ मैनेज करने के बारे में सोच रही हैं, ध्यान रहे चीजों में बदलाव आएगा, लेकिन एक समय पर सब मैनेज भी होगा। अगर आप अपने बच्चे का ध्यान रखेंगी और उससे प्यार करेंगी, आपका बच्चा भी आपसे ये सब बातें सीखेगा और आपसे भी उतना ही प्यार करेगा जितना की आप।

सपोर्ट लें -

गर्भावस्था में एक और बात सीखने वाली है वो है आप इस लड़ाई में अकेले नहीं हैं। कई संख्या में महिलायें बिना प्लैन किये प्रेग्नेंट होती हैं, बस आपको एक सहारे की जरूरत है। किसी विश्वसनीय सहयोगी, मित्र, साथी या किसी काउंसलर से बात करें जो आपकी मदद कर सकता है। कई सहायता समूह भी उपलब्ध हैं जो आपको सही विकल्प देने में मदद कर सकते हैं।