मैं अभी इतनी जल्दी मां नहीं बनना चाहती

Mai abhi itni jaldi maa nahi banna chahti
मैं अभी इतनी जल्दी मां नहीं बनना चाहती

महिमा की शादी को सिर्फ 2 से 3 महीने ही हुए थे कि वो प्रेग्नेंट हो गयी।

महिमा को जब इस बारे में पता चला तो उन्होंने अपने पति वरुण से बोला "मैं अभी इतनी जल्दी मां नहीं बनना चाहती थी, अभी हमारी शादी को सिर्फ दो या तीन महीने ही हुए थे और मैं मां बन गयी, लोग क्या सोचेंगे". ये सुनकर वरुण ने कहा " ये स्थिति हमारे साथ ही नहीं है महिमा, ये हर पति पत्नी के साथ होता है".

महिमा अपने पति की ये बाते सुनने के बाद भी संतुष्ट नहीं थी, दुविधा में थी, न तो वो ये सुनकर खुश थी और न ही दुखी। महिमा सोच रही थी कि मैं अभी मां बनने के लिए तैयार नहीं हूं। इतनी बड़ी बात भला पति पत्नी के बीच कैसे छुपी रहती और ये उड़ते -उड़ते महिमा की सासु मां तक जा पहुंची।

सास की खुशी का ठिकाना नहीं था। वो बहु को गर्भावस्था में खुद का ध्यान कैसे रखना चाहिए, जैसी नसीहते देने लगी। महिमा से वो रोज बोलती थी कि "भारी समान मत उठाना महिमा, जल्दी जल्दी मत चलो पैर फिसल सकता है" .

ये सब देखने के बाद महिमा बंधा हुआ महसूस कर रही थी, उसे समझ नहीं आ रहा था कि ऐसे में क्या किया जाए। इस खबर के दो दिन बाद ही सास ने महिमा से अस्पताल जाने के लिए बोल दिया। "महिमा आज मेरे साथ अस्पताल चलना तुम्हरा चेकअप करवाना है". महिमा मन ही मन सोचें कि सासु मां को मैं कैसे बताऊं कि मुझे अभी मां नहीं बनना है।

महिमा ने जवाब दिया कि "मां मैं तो ठीक हूं मुझे कहीं नहीं जाना।" महिमा की सास ने जवाब दिया कि "बेटा तुम्हारा अबॉर्शन करवाना है।"

"तुम्हे देखकर लगता है तुम अभी मां नहीं बनना चाहती तो ठीक है हम तुम्हारा अबॉर्शन करवा देते हैं" या फिर तुम इस बच्चे को जन्म देने के बाद मेरे पति की बहन की बेटी है हम ये बच्चा उन्हें दे देंगे। उन्हें तो कबसे बच्चा नहीं हो रहा है और कबसे वो अपने घर में किलकिलारियां गूंजती हुई देखना चाह रही हैं।

ये सब सोचने के बाद महिमा के आंखों में आंसू आ गए और मां जी से बोलने लगी कि "मुझे ये बच्चा किसी को नहीं देना ये सिर्फ मेरा है और इसे मैं ही जन्म दूंगी और मैं ही पालूंगी।"

महिमा की सास ने ये देखकर बहु को समझाया "फिर इतना परेशान क्यों हो रही थी जो महिला मां बनती है वो दुनिया की सबसे खुशनसीब मां होती है, अगर तू खुश रहेगी तो बच्चा भी स्वस्थ रहेगा, अब फ़िक्र छोड़ और खुश रह।" 

ये सब सुनने के बाद महिमा सास के साथ अस्पताल तो गयी लेकिन अबॉरशन करवाने नहीं अपनी सेहत का पता करने।

No stories found.